गूगल एनालिटिक्स क्या और कैसे देखे? Google Analytics Hindi

Google analytics hindi जानकारी आप इस आर्टिकल के माध्यम से पढ़ने वाले हैं। क्या है गूगल एनालिटिक्स? Google Analytics का अर्थ क्या है और इसका उपयोग खास विशेषताएँ क्या है? कैसे सेटअप करते हैं? आदि तमाम जानकारी आप इस पोस्ट के माध्यम से जानेंगे। तो चलिए जानते हैं,

Google Analytics Hindi
Google Analytics Hindi

Google Analytics kya hai?

सबसे पहले बात करते हैं गूगल एनालिटिक्स क्या है? दोस्तों जैसे कि आप जानते हैं गूगल का ही एक ऐसा प्रोडक्ट है जिसमें आप अपने वेबसाइट या BLOG या, एप्लीकेशन को अपने गूगल एनालिटिक्स के माध्यम से आप लिंक करके यह एनालाइज कर सकते हैं कि,

कितने लोग हमारे सर्विस या ब्लॉग पर आए हैं। क्या ट्राफिक आया, कौन-सा आर्टिकल या पेज देखा गया। आदि तमाम प्रकार की अपनी वेबसाइट का एनालाइज करते हैं तो इस प्रकार से Google Analytics गूगल का ही एक प्रोडक्ट है जो आपके Site डाटा को प्रदर्शित करते हैं। अपना स्वयं Website ट्राफिक वगैरह एनालाइज कर सकते हैं।

एनालिटिक्स अर्थ क्या है? (Analytics)

अब बात करते हैं Analytics का अर्थ क्या होता है? दोस्तों एनालिटिक्स का अर्थ होता है कि एक प्रकार का विश्लेषण करना। website, blog, ads, app ka पूर्ण रूप से उसका एनालाइज कर के हम देख सकते हैं और विश्लेषण कर सकते हैं। यह एनालाइज Analytics विश्लेषण करने का अर्थ है।

गूगल एनालिटिक्स का उपयोग क्या है?

हम आपको बताना चाहते हैं कि गूगल एनालिटिक्स का उपयोग क्यों किया जाता है? तो दोस्तों जैसे कि आप जानते हैं जब भी हमारा ब्लॉग या वेबसाइट इंटरनेट पर पब्लिश् होता है तो इसका हम कैसे एनालाइज या विश्लेषण करते हैं कि हमारी वेबसाइट पर कितने लोग कहाँ से आ रहे हैं?

किस टाइम देख रहे हैं, या कौन-सा page सबसे अधिक या कम देखा गया है। यदि आपको इन तमाम प्रकार का एनालाइज करना है अपनी साइट का तो, गूगल एनालिटिक्स के माध्यम से कर सकते हैं उससे हमारा वेबसाइट लिंक करना होता है।

आपका जो भी वेबसाइट पर ट्रैफिक होगा उसे आप अपने गूगल एनालिटिक्स के माध्यम से Dekh सकते हैं। इसी प्रकार से और भी तमाम प्रकार के प्रोडक्ट एप्लीकेशन और भी गूगल ऐडसेंस जैसे लिंकिंग किए जाते हैं और ब्लॉगर वेबसाइट के माध्यम से को भी हम अपने Google Analytics के माध्यम से देख सकते हैं और आसानी से अपनी विश्लेषण कर सकते हैं।

Google Analytics की विशेषताएँ क्या है?

आप सोचते होंगे कि इसकी खास विशेषता क्या है? तो दोस्तों गूगल एनालिटिक्स की विशेषता यही है कि हमें अपनी साइड से Analytics अकाउंट को लिंक करना होता है। या कहीं हमें कोड डालने की जरूरत होती है।

Analytics Code डालकर के गूगल एनालिटिक्स सामग्री को पूर्ण रूप से एनालाइज कर के अपने डैशबोर्ड में प्रदर्शित करता है और आसानी से हम अपने वेबसाइट की एक्टिविटी को देख सकते हैं और संपूर्ण तरह से एनालाइज कर सकते हैं। अब हम जानते हैं यह खाता सेटअप कैसे किया जाता है?

आप एनालिस्ट खाता कैसे सेट करते हैं?

Analytics खाता सेटअप करने के लिए यदि आप वर्डप्रेस पर अपनी वेबसाइट बना है तो उसके लिए सबसे अच्छा बेस्ट प्ले अगेन है, Google site kit जिसका इस्तेमाल करके हम जैसे ही इसको चालू करेंगे। यह हमें गूगल सर्च कंसोल व गूगल एनालिटिक्स से कनेक्ट कर देगा और हमारा वेबसाइट लिंक हो जाएगा।

इसी प्रकार से यदि हम ब्लॉगर पर अपनी वेबसाइट को Google Analytics से लिंक करते हैं तो उसके लिए हमें एक कोड डालना होता है, ठीक इसी प्रकार से आपको अपने गूगल ऐडसेंस से भी लिंक कर सकते हैं तो इस प्रकार से या खाता सेटअप किया जाता है।

खाता सेटअप करने के लिए आपके पास गूगल अकाउंट होना चाहिए, साथ में कोई एक वेबसाइट होना चाहिए, आप अपने गूगल एनालिस्ट से आसानी से लिंकिंग कर सेटअप कर सकते हैं।

गूगल एनालिटिक्स ट्रैकिंग कोड क्या है?

Google Analytics का कोड इस्तेमाल किया जाता है जो कि हम यदि ब्लॉगर पर अपनी वेबसाइट बनाते हैं तो वहाँ पर हमें गूगल एनालिटिक्स में साइन अप कर के वहाँ पर अपना अकाउंट बनाना होता है। उस वेबसाइट को लिंक करना होता है।

उसके बाद हमें एक कोड मिलता है उस कोड को अपनी साइट में जोड़ते हैं, या अन्य डैशबोर्ड में भी उस कोड को यूज कर सकते हैं। गूगल एनालिटिक्स का अपडेट अब नया फीचर में देखने को मिलेगा।

निष्कर्ष:

ऊपर दिए गए आर्टिकल के माध्यम से आपने Google Analytics Hindi की खास इंफॉर्मेशन को पढ़ा। आपको ऊपर दी गई जानकारी जरूर अच्छी लगी होगी। आर्टिकल पढ़ने के लिए धन्यवाद, इंटरनेट इन इंडिया की ओर अधिक आर्टिकल पढ़ें।

और अधिक पढ़ें: Google Adwords Kya hai?

Leave a Comment

19 − fifteen =